Saint of Matri Sadan Ganga Putra Swami Nigmanand Saraswati sacrificed his life a year ago on 13th June 2011. He was murdered in Hospital after continuous Satyagrah of 68 days.

Matri Sadan salutes martyrdom of Swami Nigmanand as per the following schedule.

1. 13th June 2012 Renouncement and Martyrdom Day
2. 14th June 2012 Environment Day
3. 15th June 2012 Abolish Corruption Day
4. 16th June 2012 Peace Day

The door to Cemetery will be open for Public from 13th June 2012 till 16th June 2012

Please pay attention:
Very Important: Those who have participated in the Shraadh of Swami Nigmanand or any karmkand related to his death are not allowed to enter the Ashram and Cemetery.

मातृ सदन के गंगापुत्र स्वामी निगमानंद सरस्वती दिनांक १३जून २०११ को ब्रह्मलीन हुए थे.गंगा की रक्षा एवं भ्रष्टाचार उन्मूलन हेत एतिहासिक ६८ दिवस के लगातार अनशन के उपरान्त स्वामी जी की भृष्टाचारियों द्वारा अस्पताल में जहर दे कर हत्या की गयी.
मातृ सदन के संकल्पानुसार स्वामी जी एवं गंगा के हत्यारों को सजा मिलने तक सत्य पर स्थित अहिंसापूर्वक संघर्ष निरंतर जारी रहेगा.
दिनांक १३जून २०१२ से १६जून२०१२ तक कार्यक्रमों की सूची
१. १३जून२०१२ त्याग एवं बलिदान दिवस
२. १४जून२०१२ पर्यावरण दिवस
३. १५जून२०१२ भृष्टाचार उन्मूलन दिवस
४. १६जून२०१२ शांति दिवस

दिनांक १३ जून से १६ जून २०१२ तक समाधिस्थल के द्वार दर्शन हेतु खुले रहेंगे.
कृपया ध्यान दे….
अति आवश्यक सूचना : जिन व्यक्तियों ने स्वामी निगमानंद जी का श्राद्ध किसी भी रूप में किया है या श्राद्ध के कार्यक्रम में शामिल हुए है उनका आश्रम परिसर एवं समाधि स्थल में प्रवेश वर्जित है.

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s